Breaking News

Covishield: नए साल पर खुशखबरी…देश को मिला पहला कोरोना टीका

कोरोना महामारी से जूझ रहे देश के लिए नया साल का पहला दिन बड़ी राहत लेकर आया। शुक्रवार को कोविशील्ड के रूप में देश को कोरोना का पहला टीका मिल गया।

विशेषज्ञ समिति ने सीरम इंस्टीट्यूट के कोविशील्ड टीके के आपात इस्तेमाल की सशर्त मंजूरी की सिफारिश की। अब इसे भारतीय दवा महानियंत्रक की हरी झंडी चाहिए, जहां से मंजूरी मिलना तय है। वहीं, टीकाकरण की तैयारियों को परखने के लिए शनिवार को देशव्यापी पूर्वाभ्यास होगा।

केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन की कोविड-19 पर बनी विशेषज्ञ समिति की शुक्रवार को बैठक हुई। इसमें सबसे पहले अमेरिकी कंपनी फाइजर के टीके पर चर्चा हुई। इसके बाद सीरम और भारत बायोटेक के टीका पर चर्चा हुई।

इस दौरान सभी विशेषज्ञों ने कोविशील्ड के आपात इस्तेमाल पर सहमति जताई। समिति में मौजूद एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, सिफारिशों के आधार पर दवा महानियंत्रक की ओर से कोविशील्ड को अनुमति मिलने की पूरी उम्मीद है।

दुनिया की सबसे बड़ी टीका निर्माता कंपनी सीरम ने कोविशील्ड के उत्पादन के लिए एस्ट्राजेनेका से करार किया है। ब्रिटेन की मेडिसिन्स एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित और एस्ट्रेजेनेका द्वारा निर्मित इस टीके को बुधवार को मंजूरी दी थी।

सीरम ने दावा किया है कि वह कोविशील्ड की पांच करोड़ खुराक बना चुकी है। कंपनी का लक्ष्य मार्च तक 10 करोड़ खुराक बनाने का है।

पहले चरण में 30 करोड़ लोगों को टीका
आपात इस्तेमाल के लिए जिन लोगों को टीका दिया जाना है, उनकी सूची ज्यादातर राज्यों ने कोविड वेबसाइट पर अपलोड कर दी है। इसके दायरे में 30 करोड़ लोग हैं, जिन्हें पहले चरण में टीका लगेगा। स्वास्थ्य कर्मचारी, सुरक्षाबल, निगमकर्मी, 50 और उससे अधिक आयु के लोग तथा पहले से बीमार व्यक्तियों को टीका मिलेगा।

देशव्यापी पूर्वाभ्यास आज, तैयारियां पूरी : हर्षवर्धन
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने शुक्रवार को बताया, टीकाकरण के पहले चरण की तैयारियां पूरी हो गई हैं। शनिवार को सभी राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों में टीकाकरण का पूर्वाभ्यास होगा।

दुनिया के सबसे बड़े वयस्क टीकाकरण कार्यक्रम के लिए चुनाव की तर्ज पर पूरी तैयारी जरूरी है। हर राज्य में कम से कम तीन केंद्रों पर पूर्वाभ्यास होगा। इस दौरान किसी को टीका नहीं लगेगा लेकिन टीकाकरण की सभी प्रक्रिया पूरी की जाएंगी।

बेरोकटोक होगा कोरोना के टीके का आयात-निर्यात
केंद्र सरकार ने बिना किसी मूल्य सीमा के कोरोना टीके के आयात-निर्यात को मंजूरी दी है, ताकि बेरोकटोक वितरण हो सके। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड ने जिन स्थानों पर एक्सप्रेस कार्गो प्रणली चालू है वहां कुरियर से टीके के आयात-निर्यात के लिए यह छूट दी है।

अमेरिका रूस और ब्रिटेन में टीकाकरण शुरू
ब्रिटेन, रूस और अमेरिका में टीकाकरण शुरू हो गया है। इसके अलावा बहरीन, सिंगापुर, कनाडा, सऊदी अरब, मैक्सिको, यूएई और इस्राइल भी मंजूरी दे चुके हैं। अमेरिका में फाइजर और मॉडर्ना के टीके के आपात इस्तेमाल की अनुमति मिली है। ब्रिटेन ने फाइजर और एस्ट्रेजेनेका के टीके को मंजूरी दी है।

चीन ने भी हाल ही में स्वदेशी सिनोफॉर्म को शर्तों के साथ मंजूरी दी है। रूस में स्पुतनिक-5 का टीकाकरण शुरू हो गया है। कनाडा ने फाइजर और बायोएनटेक के टीके को मंजूरी दी है।


Source link

arvind007

News Media24 is a Professional News Platform. Here we will provide you National, International, Entertainment News, Gadgets updates, etc. 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: