International

कोविड-19 के खतरे के बीच विदेशों में भारतीयों ने मनाया गणतंत्र दिवस

चीन, सिंगापुर, ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों में प्रवासी भारतीयों ने मंगलवार को 72वां गणतंत्र दिवस मनाया। कोविड-19 महामारी के चलते इस बार भारतीय दूतावासों में आयोजित समारोहों में ज्यादा संख्या में लोगों को आमंत्रित नहीं किया गया और सांस्कृतिक कार्यक्रमों को लोगों ने डिजिटल तरीके से देखा।

चीन में भारत के राजदूत विक्रम मिस्री ने बीजिंग में भारतीय दूतावास में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। चीन की राजधानी में कोविड-19 की मौजूदा स्थिति के कारण इस बार समारोह में केवल मिशन के अधिकारी और उनके परिवार के सदस्य ही पहुंचे।

मिस्री ने राष्ट्र के नाम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन पढ़ा। उन्होंने ‘चैती आर्ट्स फाउंडेशन’ द्वारा ‘वंदे मातरम’ के बनाए गये एक विशेष धुन को भी जारी किया। बीजिंग और कई शहरों में फिर से कोरोनावायरस के मामले बढ़ रहे हैं, जिसके परिणामस्वरूप स्थानीय सरकारों ने सार्वजनिक समारोहों को प्रतिबंधित कर रखा है।

इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने अपने भारतीय समकक्ष नरेंद्र मोदी को इस अवसर पर शुभकामना देते हुए कहा , ‘साल-दर-साल हमारी मित्रता बढ़ रही है।’

नेतन्याहू ने मोदी के साथ अपनी एक तस्वीर जारी करते हुए ट्वीट किया, ‘मेरे घनिष्ठ मित्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- आपके 72वें गणतंत्र दिवस पर आपको और भारत के लोगों को शुभकामनाएं।’

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शुभकामनाएं भेजीं। पुतिन ने भारत में रूसी दूतावास के फेसबुक अकाउंट पर पोस्ट किए गए अपने संदेश में कहा कि कृपया राष्ट्रीय दिवस-गणतंत्र दिवस पर हार्दिक बधाई स्वीकार करें।

उन्होंने कहा, ‘हम हमारे देशों के बीच मौजूद विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझेदारी के संबंधों को महत्व देते हैं। मुझे विश्वास है कि रचनात्मक रूसी-भारतीय संबंधों को और मजबूत करना अंतरराष्ट्रीय स्थिरता और सुरक्षा के लिए जरुरी है।

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने अपने फेसबुक अकाउंट पर पोस्ट किए गए अपने वीडियो संदेश में भारतीयों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी। उन्होंने कहा, ‘इस खास मौके पर मैं अपने दोस्त प्रधानमंत्री मोदी और सभी भारतीयों को शुभकामनाएं देता हूं। कोविड-19 महामारी में, फ्रांस और भारत पहले से ही इस लड़ाई को लड़ रहे हैं, और अब इस चुनौती का सामना करने के लिए एक साथ तैयार हैं। हम एक साथ लड़ेंगे और हम एक साथ जीतेंगे।’

इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग ने एक ट्वीट में कहा कि जोश-उत्साह के साथ गणतंत्र दिवस मनाया गया। मिशन प्रभारी सुरेश कुमार ने तिरंगा फहराया और राष्ट्रपति का संदेश पढ़कर सुनाया। एक सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन हुआ जिसमें देशभक्तिपूर्ण गीतों और कविताओं का पाठ हुआ।

बांग्लादेश के ढाका में भारतीय उच्चायोग ने भारतीय समुदाय के सदस्यों के साथ गणतंत्र दिवस मनाया। उच्चायुक्त विक्रम दुरईस्वामी ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और कार्यक्रम में राष्ट्रपति का संदेश पढ़ा।

कोलंबो में भारतीय उच्चायोग में उच्चायुक्त गोपाल बागले ने तिरंगा फहराया। इस अवसर पर एक सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। ऑस्ट्रेलिया में उच्चायुक्त गीतेश शर्मा ने कैनबरा में दूतावास के भीतर तिरंगा फहराया और राष्ट्रपति का संदेश पढ़ा।

वहीं, सिंगापुर में भारत के उच्चायुक्त पी कुमारन ने गणतंत्र दिवस के जश्न की अगुवाई की और राष्ट्रीय ध्वज फहराया। उन्होंने फेसबुक पर लाइव स्ट्रीमिंग के माध्यम से राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद का संदेश पढ़ा। कोविड-19 के सुरक्षा उपायों के मद्देनजर केवल उच्चायोग के सदस्य ही समारोह में शामिल हुए। 

रियाद, सऊदी अरब स्थित भारतीय दूतावास में भी गणतंत्र दिवस मनाया गया। भारतीय राजदूत डॉ औसफ सईद ने तिरंगा झंडा फहराया और राष्ट्रपति का संदेश पढ़ा।

नेपाल स्थित भारतीय दूतावास में भी गणतंत्र दिवस मनाया गया। इस अवसर पर भारत के राजदूत विनय मोहन क्वात्रा ने नेपाल में सी भारतीयों को हार्दिक शुभकामनाएं दी। दूतावास के एक ट्वीट में यह जानकारी दी गई।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने गणतंत्र दिवस की बधाई देने के लिए एक वीडियो संदेश जारी किया और आगामी महीनों में भारत की यात्रा करने की अपनी योजना होने की बात दोहराई।

जापान में भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में भारत और जापान के राष्ट्रगान बजाये गए। इसके अलावा, भरतनाट्यम और ओडिशी नृत्य कार्यक्रम भी पेश किए गए। इस अवसर पर दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में भारतीय राजदूत एस रंगनाथन ने तिरंगा झंडा फहराया।

Source link

arvind007

News Media24 is a Professional News Platform. Here we will provide you National, International, Entertainment News, Gadgets updates, etc. 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: