National

उत्तर भारत में कड़ाके की सर्दी, श्रीनगर में टूटा पिछले आठ साल का रिकॉर्ड

देश के उत्तरी और उत्तर-पश्चिम हिस्सों में हाड़ कंपा देने वाली ठंड पड़ रही है और श्रीनगर में पिछले आठ साल का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया। वहीं कोहरे से दृश्यता कम होने की वजह से कुछ स्थानों पर यातायात प्रभावित रहा।

बर्फीले पश्चिमी हिमालय से उठ रही हवाओं की वजह से राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं शहर में कोहरे की चादर से दृश्यता का स्तर 50 मीटर तक पहुंच गया और इससे यातायात पर असर पड़ा।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि पश्चिमी राजस्थान के गंगानगर में न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आईएमडी ने बताया कि शुष्क मौसम और उत्तर/उत्तरपश्चिम हवाओं की वजह से देश के उत्तर-पश्चिम हिस्सों के ज्यादातर इलाकों में अगले तीन-चार दिन तक न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहने की संभावना है।

आईएमडी ने बताया कि पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों तथा उत्तराखंड में अगले तीन दिन के दौरान कड़ाके की सर्दी पड़ेगी।आईएमडी ने बताया कि पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कई स्थानों पर शीत लहर की संभावना है। वहीं इस दौरान बेहद शीत लहर की स्थिति भी बन सकती है।

आईएमडी ने रात आठ बजे जारी बुलेटिन में बताया कि अगले 24 घंटे में तमिलनाडु दक्षिणी केरल और लक्षद्वीप में मध्यम से भारी बारिश तथा गरज के साथ बारिश और बिजली चमकने की आशंका है। आईएमडी ने बताया कि बुधवार को तमिलनाडु में सुदूरवर्ती स्थानों पर भारी बारिश हुई।

आईएमडी ने बताया कि आज हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पूर्वी उत्तर प्रदेश में कुछ स्थानों पर कड़ाके की सर्दी और कुछ स्थानों पर हाड़ कंपा देने वाली ठंड रही। पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पंजाब के दूरदराज वाले स्थानों में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है।

हिमाचल प्रदेश के केलांग और कल्पा में बुधवार को पारा शून्य से काफी नीचे चला गया, जबकि राजधानी शिमला में न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विज्ञान विभाग ने यह जानकारी दी।

शिमला मौसम केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि लाहौल स्पीति के प्रशासनिक केंद्र केलांग में पारा शून्य से 11.4 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया और यह राज्य का सबसे ठंडा स्थान बना हुआ है। कल्पा में न्यूनतम तापमान शून्य से 2.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

मनाली, कुफरी और डलहौजी में न्यूनतम तापमान क्रमश: एक डिग्री, सात डिग्री और 7.6 डिग्री सेल्सियस रहा। उत्तर प्रदेश के चुर्क में सबसे कम न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राज्य के दूरदराज इलाकों में कोहरा छाया रहा।

राजस्थान में बुधवार को भी कड़ाके की सर्दी जारी रही, प्रदेश के गंगानगर में जहां रात का पारा 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, वहीं राज्य के एकमात्र पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू में मंगलवार को रात का न्यूनतम तापमान एक बार फिर शून्य से नीचे रहा ।

मौसम विभाग ने अगले कुछ दिन राज्य के कई हिस्सों में शीतलहर की चेतावनी जारी की है। कश्मीर घाटी में हाड़ कंपाने वाली ठंड जारी है और जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर शहर में पिछले आठ साल का सबसे कम न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया है।

मौसम विज्ञान विभाग के एक अधिकारी ने यहां बुधवार को बताया कि श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 7.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जो पिछले आठ साल में शहर का सबसे कम न्यूनतम तापमान है। उन्होंने बताया कि इससे पहले 14 जनवरी, 2012 को इतना ही न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया था।

शेष घाटी में भी भीषण ठंड है। पंजाब एवं हरियाणा के अधिकतर हिस्सों में शीतलहर का प्रकोप बुधवार को भी जारी रहा और नारनौल दोनों राज्यों में सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान 1.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

हरियाणा के नारनौल में सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज किया गया। हिसार में भी तापमान दो डिग्री सेल्सियस के नीचे रहा। हिसार में न्यूनतम तापमान 1.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस कम हैं। दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पंजाब के अमृतसर, लुधियाना और पटियाला में न्यूनतम तापमान क्रमश: 3.5, 3.8 और 6.4 दर्ज किया है, जो सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस तक नीचे है। पठानकोट, आदमपुर, हलवारा, भटिंडा, फरीदकोट और गुरदासपुर में न्यूनतम तापमान क्रमश: 9.2, 3.4, 3.6, 3.2, 4 आौर 8.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।


Source link

arvind007

News Media24 is a Professional News Platform. Here we will provide you National, International, Entertainment News, Gadgets updates, etc. 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: